Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

sher aur chuha Story

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me
Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

एक बार एक शेर अपनी गुफा में सो रहा था। तभी एक चूहा कही से आकर शेर के ऊपर कूदने लगा। जिसमे शेर कि नींद टूट गयी। शेर को चूहे पर इतना गुस्सा आया कि उसे उसने अपने पंजे में जकड़ लिया और उसे मारने के लिए सोचने लगा। चूहा बहुत डर गया। उसने काँपते हुए शेर से कहा -”हे शेर राजा! मुझे माफ़ कर दीजिये ,मुझसे बहुत भारी भूल हो गयी।

अगर आप मुझे जाने देंगे तो आपका बहुत उपकार होगा और आपके इस उपकार को मैं वक्त आने पर जरुर चुका दूँगा।” यह सुनकर शेर को चूहे पर दया आ गयी और उसने उसे जाने दिया। पर वह मन ही मन हँसा कि भला यह छोटा सा चूहा मेरा उपकार क्या चुकाएगा। पर चूहे की यह बचकानी बात सुनकर शेर ने उसे छोड़ दिया.

समय बीतता गया और अक्सर जंगल में शिकारी घूमते रहते थे. शिकारी जंगल में जगह जगह जाल बिछा कर रखा रहता था. और एक दिन हमेशा की तरह शेर शिकार की तलाश में जंगल में घूम रहा था कि एक शिकारी ने उसे चालाकी से अपने जाल में पकड़ लिया। शेर अपनी सहायता के लिए जोर -जोर से दहाड़ मारने लगा।

टोपीवाला और बंदर Topiwala aur Bander ki Kahani

शेर खूब चिल्लाया पर कोई उसे बचाने वहां नहीं आया, वहीँ से चूहा गुजर रहा था उसने शेर की आवाज सुन ली. शेर की आवाज सुनकर चूहा वहाँ आया। शेर को जाल में फॅसा देखकर उसने तुरंत अपने नुकीले दाँतो से शिकारी का जाल काट दिया और शेर को आज़ाद कर दिया। शेर ने चूहे को बहुत धन्यवाद किया।

उस दिन शेर को समझ आया कि किसी भी प्राणी कि काबिलियत उसके भारी रूप से नहीं लगानी चाहिए और कभी छोटे -बड़े का भेद -भाव नहीं करना चाहिए। हमेशा सबकी मदद करनी चाहिए क्योंकि जो दूसरो की मदद करता है।,उसकी भी सब मदद करते है।

My First Library: Boxset of 10 Board Books for Kids Board book आप इसे खरीदना चाहते है.

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

सीख: व्यक्ति चाहे छोटा हो या बड़ा हमेसा उसका सम्मान करना चाहिए. मुसीबत में अपना कोई भी व्यक्ति साथ दे सकता है.

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me
Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me

Ek sher aur ek chuha ki Kahani

ek baar ek sher apanee gupha mein so raha tha. keval ek chooha kahee se aakar sher ke oopar koodane laga. jisamen sher kee neend toot gaee. sher ko choohe par itana gussa aaya ki usane apane panje mein jakad liya aur use maarane ke lie sochane laga. chooha bahut dar gaya. usane kaanpate hue sher se kaha – “he sher raaja! mujhe maaf kar dena, mujhe bahut bhaaree bhool ho gayee.

agar aap mujhe jaane denge to aapaka bahut upakaar hoga aur aapake is upakaar ko main vakt aane par jaroor bataega. ” yah sunakar sher ko choohe par daya aa gayee aur usane use jaane diya. par vah man hee man hansa ki bhala yah chhota sa chooha mera upakaar kya hoga. par choohe kee yah bachakaanee baat sunakar sher ne use chhod diya.

samay beetata chala gaya aur aksar jangal mein shikaaree ghoomate rahate the. shikaaree jangal mein jagah jagah jaal bichha kar rakha rahata tha. aur ek din hamesha kee tarah sher shikaar kee talaash mein jangal mein ghoom raha tha ki ek shikaaree ne use chaalaakee se apane jaal mein pakad liya. sher apanee sahaayata ke lie jor -jor se dahaad maarane laga.

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me
sher khoob chillaaya par koee use bachaane vahaan nahin aaya, vaheen se chooha gujar rahe the usane sher kee aavaaj sun lee. sher kee aavaaz sunakar chooha vahaan aa gaya. sher ko jaal mein phaasa dekhakar usane turant apane nukeele daanto se shikaaree ka jaal kaat diya aur sher ko aazaad kar diya. sher ne choohe ko bahut dhanyavaad kiya.

us din sher ko samajh mein aaya ki koee bhee praanee jo kaabiliyat usake bhaaree roop se nahin lagaanee chaahie aur kabhee chhote -bade ka antar-vyavahaar nahin karana chaahie. hamesha sabakee madad karanee chaahie kyonki jo doosaronro kee madad karata hai., usakee bhee sab madad karate hain.

sher aur chuha ki kahani hindi mein – Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me
seekh: vyakti chaahe chhota ho ya bada hamesa usaka sammaan karana chaahie. museebat mein apana koee bhee vyakti saath de sakata hai.

Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me


आपने इस post Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा। और आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके। जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बच सके. साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े।

यदि आपको लगता है Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ और पूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है।

और यदि आपको Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me की जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे social मीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है।

1 thought on “Ek sher ek chuha ki Kahani hindi me”

Leave a Comment