वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi

वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi

के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi
वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi sentence by meaning

hindi grammar in hindi grammar परीक्षाओ में 1 या २ अंको के लिए अक्सर पूछे जाते है. mumbai board या cbsc बोर्ड उसके अलावा सरकारी नैकरी के परीक्षाओ में भी ऐसे प्रश्न पूछे जाते है. इन Hindi ke vyakaran के लिए जुड़े रहे हमारे इस वेबसाइट से।

वाक्यों का वर्गीकरण वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi दो प्रकार से होता है

  1. रचना या स्वरुप के आधार पर अधिक जानकारी के लिए दिए हुए लिंक पर जाये।
  2. अर्थ के आधार पर वाक्य के भेद

Motivational हिंदी की दिल को छु लेने वाली शायरी व quote के लये यहाँ क्लिक करे.

वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi sentence by meaning

अर्थ के आधार पर वाक्य के भेद

अर्थ के आधार पर आठ प्रकार के वाक्य होते हैं –

  • विधान वाचक वाक्य
  • निषेधवाचक वाक्य
  • प्रश्नवाचक वाक्य
  • विस्म्यादिवाचक वाक्य
  • आज्ञावाचक वाक्य
  • इच्छावाचक वाक्य
  • संकेतवाचक वाक्य
  • संदेहवाचक वाक्य।
वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi
वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi sentence by meaning

यह हिंदी के व्याकरण भी आपके काम आ सकते है :

Shabdon ke Bhed Types of Word वर्ण Letter
Samas in hindi aur Samas ke prakar Hindi Vyakaran समास व उसके प्रकार हिंदी व्याकरण
150 संधि विग्रह हिंदी व्याकरण Sandhi Vigrah Hindi Vyakaran
hindi vyakaran alankar हिंदी व्याकरण अलंकार Alankar Hindi Grammar
हिंदी व्याकरण : छंद-दोहा, चौपाई, सोरठा Doha Chaupai Sortha Chhand Hindi Vyakaran

वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi

English Grammar in Use Book with Answers: A Self-Study Reference and Practice Book for Intermediate Learners of English इंग्लिश की ग्रामर बुक खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें

विधानवाचक वाक्य

एक सामान्य वाक्य जिसमे किसी काम के होने का बोध हो या किसी के होने का बोध हो, या फिर किसी प्रकार की जानकरी हो उसे विधानावाचक वाक्य कहते है।

विधानवाचक वाक्यों को विधिवाचक वाक्य भी कहते है।

उदाहरण –

  1. भारत मेरा देश है।
  2. राजेश घर जाता है।
  3. भारत एक प्राचीन देश है।
  4. मै एक हिन्दुस्तानी हूँ।
  5. राम ने खाना खा लिया।
  6. राधिका किताब से पढ़ रही है।
  7. वे सभी खेल रहे है।
  8. माँ खाना पकाती है।
  9. मुंबई महाराष्ट्र की राजधानी है।
  10. राम विद्यालय जा रहा है।

निषेधवाचक वाक्य

निषेध का मतलब होता है “नहीं”, नकारात्मक बातें। जिस किसी वाक्य में नकारात्मक बातें हो या जिसमे निषेध हो ऐसे वाक्य निषेधवाचक वाक्य कहते हैं।

सामान्यत: इसमें “नहीं, न, ना, नकार” जैसे शब्द मिलेंगे।

जैसे-

  1. वह आज स्कुल नहीं जायेगा।
  2. न रहेगा बॉस न रहेगा बांसुरी।
  3. वह हमेशा से मेरे काम को नकार देता है।
  4. तुम मेरे साथ नहीं चलोगे।
  5. आदि दीदी का कहना नहीं मानता है।
  6. अभय सुबह नहीं आया था।
  7. आस्था हमेशा गृहकार्य नहीं करती है।
  8. नेहा गाना नहीं गाएगी।
  9. पापा कल बाजार नहीं जायेंगे।
  10. माँ मुझे प्यार नहीं करती है।

प्रश्नवाचक वाक्य

जिस वाक्य से किसी प्रकार प्रश्न का बोध हो या फिर किसी प्रकार का प्रश्न पूछा गया हो , वह प्रश्नवाचक वाक्य होता  है।

प्रशन वाचक शब्द : क्या, कब, कहाँ, कौन, किसे, किधर, क्यों, किस लिए, कैसे, किसका आदि।

उदाहरण

  1. वह क्या है?
  2. राम कहाँ रहता है?
  3. वे लोग कौन से काम करते  थे?
  4. राहुल तुम कौन से देश में रहते हो ?
  5. आज टीचर ने क्या होम वर्क दी थी?
  6. आस्था कब आएगी?
  7. आपका घर कहाँ है?
  8. तुम क्या देख रहे हो?
  9. दिवाली कब है?
  10. वे लोग कैसे होंगे?

आज्ञावाचक वाक्य 

वह वाक्य जिसमें आदेश, आज्ञा , अनुमति या प्रार्थना का बोध हो, वे वाक्य आज्ञावाचक वाक्य कहलाते हैं।

उदाहरण –

  1. आप यहाँ आओ।
  2. तुम इसे कर लाना।
  3. तुम यहीं ठहरो।
  4. आप लोग सभी शांत हो जाओ।
  5. दरवाजा खोल दो।
  6. खिड़की दरवाजे बंद कर दो।
  7. आपसे निवेदन है आप मेरा काम कर दो।
  8. कृपया आप मेरी मदद करें।
  9. पापा आप जल्दी आना।
  10. माँ खाना लाओना।

वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi sentence by meaning

विस्मयादिबोधक वाक्य

वह वाक्य जिससे किसी प्रकार की अनुभूति जैसे आश्चर्य, शोक, घृणा, अत्यधिक ख़ुशी, स्तब्धता जैसे भावों का बोध हो, वह विस्मयादिबोधक वाक्य कहलाता हैं।

(!) विस्मयसूचक चिन्ह है।

आहा!, अरे!, अरेरे! वोह!, हाय!, शाबाश!, हे राम!, छि:!, छी- छी!, हे भगवान!, ओह!,कहाँ!, हम्म!,अबे!, बाप रे!, बेचारा!, बदनसीब!,रुको!,

जैसे शब्द रहेंगे, उसके आलावा बहुत शब्दों के आगे यदि विस्मय चिन्ह हो तो वह भी विस्मयादिबोधक वाक्य होता है।

उदाहरण –

  1. हे राम! क्या हो गया है लोगो को।
  2. छी! तुम क्या कर रहे हो।
  3. शाबाश बेटा! तुमने बहुत बढ़िया काम किया।
  4. अरेरे ! वह गिर गया।
  5. रुको! तुम नहीं जा सकते।
  6. हाय ! मै तो डर ही गया था।
  7. बेचारा! हार गया।
  8. अरे वाह! तुम जीत गए।
  9. वाह! वाह! क्या बात है।
  10. क्या बात! तुम ने कर दिखाया।

इच्छावाचक वाक्य 

जिन वाक्य‌ों में किसी चाह, जरुरत, इच्छा, आकांक्षा, कामना या आशीर्वाद का बोध होता है, उन्हें इच्छावाचक वाक्य कहते हैं।

उदाहरण

  1. माँ ने बहु को कहा – दूधोँ नहाओ, पूतोँ फलो।
  2. आप का नववर्ष मंगलमय हो।
  3. बाबा ने भक्त से कहा “तुम्हारा कल्याण हो।”
  4. गरीब व्यक्ति ने आदि से बोला – भगवान तुम्हें लंबी उमर दे।
  5. हे भगवान मुझे परीक्षा में पास कर देना।
  6. काश मेरे पास भी पैसे होते।
  7. जन्मदिन की ढेरो शुभकामनाये।
  8. मुझे भी तुम्हारे साथ जाने देते।
  9. मै भी आपके जैसा बनाना चाहता हूँ।
  10. खुश रहो बेटा, मै जाता हूँ।

संकेतवाचक वाक्य

वाक्य में किसी प्रकार का संकेत दर्शाता हो या वे वाक्य जिसमे एक क्रिया का दूसरी क्रिया पर संकेत या इशारा हो, ऐसे वाक्य संकेतवाचक वाक्य कहलाते हैं।

  1. यदि तुमने मेहनत की होती तो आज सफल हो जाते।
  2. अगर बारिश होगी तो फसल भी अच्छी होगी।
  3. अगर तुम जल्दी आते तो बस नहीं छुटती।
  4. अगर तुम मेरा साथ दो तो मै जीत जाऊंगा।
  5. यदि वह अच्छा खेलता तो भारत में हार जाता।
  6. अगर पापा कहेंगे तो मै भी आऊंगा।
  7. अगर बीमारी बढ़ेगी तो फिर से लोक डाउन हो जायेगा।
  8. यदि तुम सही से इलाज करते तो जल्दी ठीक हो जाते।
  9. अगर वह घर में ही रहता तो ये हाल नहीं होता।
  10. यदि हमें अच्छे अंक लाने है तो ठीक से पढ़ना होगा।

संदेहवाचक वाक्य

शक.

ऐसे वाक्य जिसमे किसी प्रकार के शक, संदेह या संभावना व्यक्त होता है, वह वाक्य संदेहवाचक वाक्य कहलाते हैं।

सामान्यत: ऐसे वाक्य में प्रश्न भी होते है?

  1. कल बहुत तेज़ बारिश हो सकती है।
  2. शायद आज वह नहीं आएगा।
  3. वह संभवतः ठीक होगा।
  4. पापा शायद मान जायेंगे।
  5. ट्रेन शायद देरी से आने वाला है।
  6. हो सकता कल मैं नहीं आऊंगा।
  7. हो सकता है वे लोग जल्दी आ जायेंगे।
  8. शायद कल से सब फिर बंद रहेगा।
  9. क्या आज सब काम पूरा हो जायेगा?
  10. क्या टीचर मुझे मारेगी?

FAQ वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi sentence by meaning

वाक्य के भेद कितने होते हैं?

अर्थ के आधार पर आठ प्रकार के वाक्य होते हैं

रचना के आधार पर वाक्य के भेद कितने होते हैं?

एक वाक्य है क्योंकि इसका पूर्ण अर्थ निकलता है। 1 – सरल वाक्य । 2 – संयुक्त वाक्य । 3 – मिश्र वाक्य

वाक्य की परिभाषा क्या है?

शब्दों का व्यवस्थित व आधार युक्त रूप जिससे मनुष्य अपने बोल का आदान प्रदान करता है उसे वाक्य कहते हैं एक सामान्य वाक्य में क्रमशः कर्ता, कर्म और क्रिया होते हैं।

शब्द की परिभाषा क्या है?

दो या दो से अधिक वर्णो से बने ऐसे समूह को जिसका एक अर्थ निकलता हो उस ‘शब्द‘ कहते है


आपने इस post वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा। और आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके। जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बच सके. साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े।

यदि आपको लगता है वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ और पूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है।

और यदि आपको वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi की जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे social मीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है।

धन्यवाद!

4 thoughts on “वाक्य के भेद Vakya ke Bhed Types of Sentence in hindi”

Leave a Comment

%d bloggers like this: