एक गरीब लडके कि समझदारी Ek Garib Ladka Story

एक गरीब लडके कि समझदारी Ek Garib Ladka Story

एक गरीब लडके कि समझदारी Ek Garib Ladka Story
एक गरीब लडके कि समझदारी Ek Garib Ladka Story

Ek Garib Ladka Story

एक गांव में एक लड़का रहता था। एक दिन वह अपनी मनपसंद लाल रंग की कमीज पहनकर अपनी बकरियों को लेकर उन्हें चरने के लिए लेकर जा रहा था। रास्ते में उसे एक रेल की पटरी को पार करना पड़ता था।

उसने अपनी बकरियों को पटरी के दूसरे पार चरने के लिए छोड़ दिया। वह पेड़ के नीचे बैठकर अपनी बकरियों को देखता रहता। अचानक उसकी नज़र रेल की पटती पर पडी। वह आगे से टूटी हुई थी। वह बहुत ही घबरा गया।

सामने से तेज गति से आ रही रेल को देखकर उसकी घबराहट और भी बढ़ गयी। आस -पास कोई भी दिखाई नहीं दे रहा था। तब उसने अपनी लाल रंग की कमीज उतारी और पटरी पर ले कर दौड़ने लगा। रेल चालक ने जल्द -से जल्द रेल रोका। सभी लोग रेल से नीचे उतरे। तब उस लड़के ने उन सभी लोगो को बताया कि आगे रेल की पटरी टूट गयी है। सभी लोग उस लडके के साहस पर बहुत ही खुश हुए। रेलवे विभाग द्वारा उसका नाम पुरस्कार के लिए भेजा गया।

सीख : एक गरीब लडके कि समझदारी Ek Garib Ladka Story : कभी मुसीबत में दूसरो की मदद कर नि चाहिए, ऐसा करने से अपना भला अपने आप हो जाता है.

Leave a Comment