Khud ko aaina dikhana खुद को आइना दिखाना

खुद को आइना दिखाना Khud ko aaina dikhana

खुद को आइना दिखाना Khud ko aaina dikhana
खुद को आइना दिखाना Khud ko aaina dikhana

यह कविता खुद को कमजोर समझ हाथ पर हाथ रखे जो खुद को बर्बाद करते रहते है. अपना कीमती समय बेकार कि सोच में बर्बाद करते है वैसे लोगो के लिए है.

खुद को आइना दिखाना Khud ko aaina dikhana motivational poems for success

औकात ही इतनी है कि क्या कर सकते है,
बैठकर खुद को कोस सकते है।
बैठकर खुद पर हस सकते है।
कभी सोचा कि कमी कहाँ रह गई
कभी सोचा कुछ और भी कर सकते है थे
पर कमबख्त औकात ही इतनी है कि क्या कर सकते है,

तू यू हँसकर खुद को ज्ञानी समझ रहा है
दो पल की सोच लगता है खुदा तेरी ले रहा है।
आज तू सोचेगा क्या नंबर आये है
क्या कभी तू सोचा है तेरा कभी नंबर भी आएगा।
पर कमबख्त औकात ही इतनी है कि क्या कर सकते है,

याद रख जो मजे तू आज इस वक्त ले रहा है
वक्त भी तेरे मजे उस वक्त ले रहा होगा
सोच के मेहरबान वक्त पे हो रहा होगा
एक वक्त आएगा तू वक्त से हैरान हो रहा होगा।
पर कमबख्त औकात ही इतनी है कि क्या कर सकते है,

Written by : Ramesh Kahar,

Read More : ये कहते है भारत मे डर लगता है Bharat me dar lagta hai Poem

Khud ko aaina dikhana

aukaat hee itanee hai ki kya kar sakate hai,
baithakar khud ko kos hai.
baithakar khud par has kar sakate hain.
kabhee socha ki kamee kahaan rah gaee
kabhee socha kuchh aur bhee kar sakate hain
kaat selibritee aukaat hee itanee hai ki kya kar sakate hain,

too yoo hansakar khud ko gyaanee samajh raha hai
do pal kee soch lagata hai khuda teree le raha hai.
aaj aap sochega kya nambar aaye hai
kya kabhee socha hai ki tera kabhee nambar bhee hoga.
kaat selibritee aukaat hee itanee hai ki kya kar sakate hain,

yaad rakhana jo dhaarmike aaj is vakt le raha hai
jab bhee tumhaara dharme us vakt le raha hoga
soch ke meharabaan jab pe ho rahe honge
ek vakt hoga jaane kab se hairaan ho jaega.
kaat selibritee aukaat hee itanee hai ki kya kar sakate hain,

यह कविता खुद को आइना दिखाना Khud ko aaina dikhana आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में हमें जरुर बताये

धन्यवाद!


आपने इस post Khud ko aaina dikhana खुद को आइना दिखाना के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा। और आपको हमारी दी गयीजानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके। जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बच सके.

साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े। यदि आपको लगता है Khud ko aaina dikhana खुद को आइना दिखाना इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ और पूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है।

और यदि आपको Khud ko aaina dikhana खुद को आइना दिखाना की जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे social मीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है।

1 thought on “Khud ko aaina dikhana खुद को आइना दिखाना”

Leave a Comment