lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

Moral Story and Knowledgeable Story

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी
lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

Vyapari Aur Makkhiyo ki Kahani

एक बार एक व्यापारी अपने ग्राहक को शहद बेच रहा था। तभी अचानक व्यापारी के हाथ से फिसलकर शहद का बर्तन गिर गया । बहुत सा शहद भूमि पर बिखर गया । जितना शहद ऊपर -ऊपर से उठाया जा सकता था उतना व्यापारी ने उठा लिया ।परन्तु कुछ शहद फिर भी जमीन पर गिरा रह गया ।
कुछ ही देर में बहुत सी मक्खियाँ उस जमीन पर गिरे हुए शहद पर आकर बैठ गयी । मीठा -मीठा शहद उन्हें बड़ा अच्छा लगा । वह जल्दी -जल्दी उसे चाटने लगी ।जब तक उनका पेट भर नहीं गया वह शहद चाटती रही ।

एकता में शक्ति Ekta me Shakti ki kahani Power in Unity Story

जब मक्खियों का पेट भर गया और उन्होंने उड़ना चाहा , तो वह उड़ न सकी क्योंकि उनके पंख शहद में चिपक गए थे ।उडने के लिए उन्होंने बहुत कोशिश कि परन्तु वह फिर भी उड़ न पायी। वह जितना छटपटाती उनके पंख उतने चिपकते जाते। उनके सारे शरीर में शहद लगता जाता।
काफी मक्खियाँ शहद में लोट -पोट होकर मर गयी। बहुत सी मक्खियाँ पंख चिपकने से छटपटा रही थी। परन्तु तब भी नई मक्खियाँ शहद के लालच में वहाँ आती रही। मरी और छटपटाती मक्खियों को देखकर भी वह शहद खाने का लालच नहीं छोड़ पायी।

Moral of the story

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

सीख: lalach ka fal story
मक्खियों की दुर्गती और मूर्खता देखकर व्यापारी बोला- जो लोग जीभ के स्वाद के लालच में पड़ जाते है ,वह इन मक्खियों के समान ही मुर्ख होते है। स्वाद के थोड़ी देर के सुख उठाने के लालच में वह अपने स्वास्थ को नष्ट कर देते है। रोगी बनकर तड़पते है और जल्द ही मर जाते है।

लालच में हम अपनी जान भी गवां सकते है, इसलिए लालच बुरी बला है.

Lalchi Makkhi ki Kahani

व्यापारी व मक्खियाँ Vyapari Aur Makkhiyo ki Kahani
lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

ek baar ek vyaapaaree apane graahak ko hanee bech raha tha. tabhee achaanak maarkar ke haath se phisalakar shahad ka bartan gir gaya. bahut sa shahad bhoomi par bant gaya. jitana shahad oopar -upar se uthaaya ja sakata tha utana hee maarkar ne uthaaya tha. lekin lekin kuchh shahad phir bhee jameen par gira rah gaya.

kuchh hee der mein bahut see makkhiyaan us jameen par gire hue shahad par aakar baith gayee. meetha -meetha shahad unhen bada achchha laga. vah jaldee -jaldee use chaatane lagee. ajab tak unaka pet bhar nahin gaya vah shahad chaatatee rahee.

jab makkhiyon ka pet bhar gaya aur unhonne udana chaaha, to vah udaane na sakee kyonki unake pankh shahad mein chip gae the. yoodane ke lie unhonne bahut koshish kee ki lekin vah phir bhee udaane na paayee. vah chhatapataatee ke roop mein unake pankh utane chipate jaate hain. unake saare shareer mein shahad lagata hai.

kaaphee makkhiyaan shahad mein lot -pot hokar mar gayee. bahut see makkhiyaan pankhon se chhatapata rahee thee. lekin tab bhee nyoo makkhiyaan shahad ke laalach mein vahaan aa rahee hai. maree aur chhatapataatee makkhiyon ko dekhakar vah bhee shahad khaane ka laalach nahin chhod paayee.

lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी

seekh: lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी
makkhiyon kee durgati aur moorkhata dekhakar maarkar bola- jo log jeebh ke svaad ke laalach mein pad jaate hain, vah in makkhiyon ke samaan hee murkh hote hain. svaad ke thodee der ke sukh uthaane ke laalach mein vah apane svaasth ko nasht kar detee hai. rogee banakar tadapate hai aur jald hee mar jaate hai.

laalach mein ham apanee jaan bhee gavaan sakate hain, isalie laalach bala hai.


आपने इस post Lalchi Makkhi ki Kahani के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा. और आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके.जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बचसके. साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े.

यदि आपको लगता है Lalchi Makkhi ki Kahani इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ औरपूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है.

और यदि आपको Lalchi Makkhi ki Kahani की जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे socialमीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है.

धन्यवाद!

1 thought on “lalchi makhi ki Kahani लालची मख्खी”

Leave a Comment