21वी सदी का भारत 21st century India Essay

21वी सदी का भारत 21st century India Essay

21वी सदी का भारत 21st century India Essay,बनेगा भारत विश्व गुरु भी और सोने कि चिड़िया भी बस हम युवाओ को इमानदारी, मेहनत, और लगन से इसे पूरा करने में लग जाना होगा

21st century india
21वी सदी का भारत 21st century India Essay

भारत : सोने कि चिड़िया Bharat Sone ki Chidiya

kalam vision 2020 essay

एक समय था जब भारत को सोने कि चिड़िया कहा जाता था. भारत के प्राकृतिक भंडार और यहाँ कि भौगोलिक सुविधाओ ने भारत को सोने कि चिड़िया की संज्ञा दी. क्या अपने आप जानते हैं? कि किसी सदी का भारत का नारा सर्वप्रथम भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी ने दिया था. उन्होंने कहा था कि आज का भारत की कल का भारत है. वैसे हमारे ग्रंथों में भी कहा गया है कि भारत विश्व गुरु था और हम फिर से विश्व गुरु बन सकते हैं

पर  वह सोने कि चिड़िया को नजाने कितने जालिमो ने लुटा, तोडा, बर्बाद किया और उन्ही बर्बादी के कारण बीसवीं सदी के भारत से हमें अनेकों चुनौतियां विरासत में मिली जनसंख्या विस्फोट, भुखमरी, बेरोजगारी, प्रदूषण, भ्रष्टाचार, शिक्षा का अभाव, स्वास्थ्य सेवा की कमी, अंधविश्वास की जकड़न, बेटियों के प्रति संकीर्ण मानसिकता, ये सभी चुनौतियां बीसवीं सदी से विरासत में मिला है.

दुनिया कि सबसे बड़ी युवा आबादी वाला देश भारत India, the world’s largest youth population

120 करोड़ कि आबादी भारत की सबसे बड़ी ताकत है हमारे देश की 60% आबादी जो 15 से 55 वर्ष की आयु में हैं अर्थात लगभग 80 करोड युवा वर्तमान भारत में है, जहां विश्व के जी-20 देशों की 60% से अधिक आबादी कि आयु 60 वर्ष से अधिक है इससे यह साफ है कि इस सदी का भारत ऊर्जावान भारत है जो विश्व में अकेला आशा की किरण है

सबसे बड़ी चुनौती : भ्रष्टाचार, गरीबी, अशिक्षा The biggest challenge: corruption, poverty, illiteracy

प्रश्न उठता है कि क्या भारत तमाम चुनौतियों का सामना कर सकता है तो जवाब है हां! आप लाख योजनाएं बना लो लेकिन भ्रष्टाचार इन योजनाओं को मुंह चिढ़ाता दिखता है प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि हमारे देश में भ्रष्टाचार इतनी गहरी जड़े जमा चुका है कि इसे काटे बिना किसी भी चुनौती को हम खत्म नहीं कर सकते उनका मानना था कि यदि केंद्र सरकार ₹1 की योजना शुरू करें तो आम जनता तक केवल 15 पैसे  का लाभ पहुंचता  है यानी ₹85 पैसे की चपत मंत्री और अधिकारी कर लेते हैं. मतलब साफ है कि बिना भ्रष्टाचार खत्म किए भारत तमाम चुनौतियो को  खत्म नहीं कर सकता.

अब बात यह भी है कि आखिर भारत में भ्रष्टाचार इतना चरम पर क्यों है तो मेरे हिसाब से हमारे देश में संसाधन कम है और जनसंख्या कई गुना अधिक है अतः जनसंख्या नियंत्रण के बिना भ्रष्टाचार को रोकना संभव नहीं है लगातार बढ़ती हुई जनसंख्या हमारे संसाधनों को दबाव पैदा कर रही है फलस्वरूप बढती बेरोजगारी, शिक्षा व्यवस्था, स्वास्थ्य सेवाएं, गरीबी  हमारे मार्ग को रोक रही है कठोर से कठोर नियम  अपनाकर जनसंख्या को नियंत्रण करना बहुत आवश्यक है.

21वी सदी का भारत 21st century India Essay

21वी सदी का भारत अपार संभावनाओं का भारत है. यह एक युवा भारत है. तमाम समस्याओं के बावजूद भारत पिछले 20 वर्षों से बड़ी तेजी से आगे बढ़ रहा है सुभाष चंद्र बोस, लाल बहादुर शास्त्री, स्वामी विवेकानंद, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेई के सपनों का भारत है वक्त की मांग है कि हम इस सुनहरे अवसर का एक-एक पल दुरुपयोग होने से बचाएं इसकी शुरुआत हमें शिक्षा प्रणाली में व्यापक बदलाव करके कर सकते हैं

बदलाव कि जरुरत Need for change

शिक्षा व्यवस्था में कार्य कुशलता तथा रोजगार कौशल (जॉब ओरिएंटेड) को प्राथमिकता देनी चाहिए और इसकी शुरुआत ग्रामीण क्षेत्र से होना चाहिए कि हमारी 60% आबादी गांवों में रहती है स्वास्थ्य सेवा को ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ाना होगा. 21वीं सदी का भारत का रास्ता गांव से गुजरता है अतः ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी ढांचे को बढ़ाना होगा ग्रामीण क्षेत्र में मोबाइल का इंटरनेट की चाल को फैलाना होगा ताकि हम हर सरकारी तथा गैर सरकारी लेनदेन को डिजिटल तथा ऑनलाइन के जरिए हासिल कर सकें ताकि भ्रष्टाचार पर लगाम लग सके, डिजिटल भारत DIGITAL INDIA, MAKE IN INDIA जैसे बड़ी बातों कागजी नहीं बल्कि जमीनी स्टार पर लाना होगा.

सबसे बड़ा बदलाव् गाव में हो Reforms in Villages

भारत गांवों का देश है अतः किसान भारत की रीढ़ की हड्डी है कृषि क्षेत्र को मजबूत करना होगा और यह तभी जब हम नदियों को संपूर्ण भारत में जोड़ दें नदियों को जोड़ने से सूखा तथा बाढ़ की समस्या का पर लगाम लगाया जा सकता है अटल बिहारी वाजपेई जी द्वारा कही बातों को “जय जवान जय किसान जय विज्ञान” को जमीनी स्तर पर लाना लाना होगा भारत में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है बस उन्हें अवसर देने का समय है तकनीकी प्रयोग के साथ साथ मानव बल का साथ हो तो पक्का हम अपने २१ वीं सदी के भारत को सपनों का भारत नहीं बल्कि हकीकत का भारत बनाया जा सकता है

2050 तक भारत सुपर पावर बनने की क्षमता रखता है और मुझे ऐसी कोई बात नजर नहीं आता कि हम सुपर पॉवर नहीं बन सकते 21वीं सदी के भारत India 21st Century की झलक शायद दुनिया को पिछले 10 वर्षों से दिखाई देना शुरू हो गया है वह दिन दूर नहीं कि हम विश्वगुरु फिर एक बार बनने जा रहे हैं.

भारत विश्व गुरु और सोने कि चिड़िया India is the World Guru and the gold bird

बनेगा भारत विश्व गुरु भी और सोने कि चिड़िया भी बस हम युवाओ को इमानदारी, मेहनत, और लगन से इसे पूरा करने में लग जाना होगा. और उसमे सबसे पहले आपको आगे आना होगा. आप सोचोगे आप के एक से क्या होगा, क्या फर्क पड़ेगा, फर्क एक एक के करने से ही पड़ेगा…

21वी सदी का भारत 21st century India Essay में आपको एक अच्छी जानकरी मिल चूका होगा. 21वी सदी का भारत 21st century India Essay में हमें उन सभी बिन्दुओ पर चर्चा किये है.

kalam vision 2020 essay

India 2020: A Vision for the New Millennium

APJ Abdul Kalam जी के सपनो का भारत पर लिखी पुस्तक आप ऑनलाइन खरीद सकते है. उसका लिंक यहाँ दिया हुआ है.

India 2020: A Vision for the New Millennium

************************************************************************

बेरोजगारी एक समस्या Unemployment is Big Problem in hindi पर निबंध

आपने 21वी सदी का भारत 21st century India Essay इस post के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा. और आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके.जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बच सके. साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े.

यदि आपको लगता है 21वी सदी का भारत 21st century India Essay इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ और पूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है.

और यदि आपको 21वी सदी का भारत 21st century India Essay जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे social मीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है.

3 thoughts on “21वी सदी का भारत 21st century India Essay”

Leave a Comment