37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह
India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

Table of Contents

हर देश अपनी पहचान हो सुंदर व सु दृढ बनाने के लिए देश कि विशेषताओ देश में मान सम्मान के अनुशार राष्ट्रिय चिन्हों व मनको को चिन्हित करती है. ठीक उसी तरह भारत भी अपने विशेषताओ को चिन्हित कि है देश देश का मन सम्मान बढ़ा है. जिसमे फुल, फल, रंग, चिन्ह, स्थान, वस्तु, पशु, पक्षी आदि का समावेश है.

1 राष्ट्रीय भाषाहिन्दीnational language hindi
 2राष्ट्रीय ध्वज तिरंगाindian flag
3 राष्ट्रगानजन गन मनjan gan man
 4राष्ट्रीय गीतवन्देमातरमvande mataram
 5राष्ट्रीय मुद्रा भारतीय रुपयाnational currency 37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह
 6राष्ट्रीय प्रतीकअशोकस्तंभashok stambh
 7राष्ट्रीय प्रतिज्ञाभारत मेरा देश हैindian pledge
 8राष्ट्रीय वाक्य सत्यमेव जयतेsatya mev jayate
 9राष्ट्रपितामहात्मा गांधीgandhi
 10राष्ट्रीय विदेश नीति गुटनिरपेक्षताgutnirpekshta
 11राष्ट्रीय सूचना पत्र सफेद पत्र
 12राष्ट्रीय त्यौहार:गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) गांधी जयंती (2 अक्टूबर)  
 13राष्ट्र मातामदर टेरेसाmother teresa
 14 राष्ट्रीय खेल हॉकीhockey
 15 राष्ट्रीय पुस्तक गीता
 16 राष्ट्रीय पर्वत नंदा देवी
 17 राष्ट्रीय जलीय सरीसृप घड़ियालghadiyal
 18 राष्ट्रीय जलीय पक्षी Kingfisherkingfisher
 19 राष्ट्रीय उभयचर बैंगनी मेंढकNational amphibian
 20 नेशनल लैंड बर्ड इंडियन बस्टर्डIndian Bustard
 21 राष्ट्रीय धरोहर स्तनपायी ग्रे लंगूरgray langur
 22 राष्ट्रीय धरोहर पक्षी ब्राह्मणी पतंग या भारतीय ईगलeagle
 23राष्ट्रीय कैलेंडर शक कैलेंडर
 24राष्ट्रीय नदी गंगा
 25राष्ट्रीय फूल भारतीय कमलlotus
 26राष्ट्रीय फल आमmango
 27राष्ट्रीय वृक्ष भारतीय बरगदbargad
 28राष्ट्रीय पशु / जानवर बंगाल टाइगर / शेरBengal tiger
 29राष्ट्रीय पक्षी भारतीय मोरpeacock
 30राष्ट्रीय जलीय पशु , राष्ट्रीय मछली गंगा नदी डॉल्फिनganga dolphin
 31राष्ट्रीय सरीसृप किंग कोबराking cobra
 32राष्ट्रीय धरोहर पशु भारतीय हाथीindian elephant
 33नेशनल माइक्रोब सूक्ष्म जीवbulgaricus को भारत के लिए राष्ट्रीय सूक्ष्म जीव के रूप में घोषित किया गया है जो दही के उत्पादन के लिए उपयोग किया जाता है
 34राष्ट्रीय मिठाईजलेबीjalebi
 35राष्ट्रीय तितलीकैसर-ए-हिंद (टीएनोपालपस साम्राज्यियाँ) swallowtail butterfly भारत का राष्ट्रीय तितली हो सकता हैswallowtail butterfly
 36राष्ट्रीय सब्जी कद्दूindian pumpkin
37राष्ट्रीय भोजनखिचड़ीkhichadi
37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

राष्ट्रीय भाषा हिंदी National Language of India Hindi

national language hindi
37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा है. हिन्दी विश्व की एक प्रचलित और प्रमुख भाषा है जो अब विश्व भर में अपनी पुरातन पहचान जो धूमिल हो रही थी अब उसमे अपना स्थान पूर्वत कर रहा है. एवं इसे भारत की राजभाषा भी कहते है। यह हिंदी संवैधानिक रूप से भारत की राजभाषा और भारत की सबसे अधिक बोली और समझी जाने वाली भाषा है। 37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

पुरे विश्व में हिंदी तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है हालांकि, हिन्दी भारत की राष्ट्रभाषा नहीं है, क्योंकि भारत के संविधान में किसी भी भाषा को ऐसा दर्जा नहीं दिया गया था। किन्तु राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिन्दी को राष्ट्रभाषा कहा था। उन्होने 29 मार्च 1918 को इंदौर में आठवें हिन्दी साहित्य सम्मेलन की अध्यक्षता की थी। उस समय उन्होंने अपने सार्वजनिक उद्बोधन में पहली बार आह्वान किया था कि हिन्दी को ही भारत की राष्ट्रभाषा का दर्जा मिलना चाहिये। उन्होने यह भी कहा था कि राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूँगा है। उन्होने तो यहाँ तक कहा था कि हिन्दी भाषा का प्रश्न स्वराज्य का प्रश्न है।

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें.

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा National Flag of India Tiranga

indian flag
37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह

राष्ट्र पिता महात्मा गांधी जी ने कहा था

“सभी देशों के लिए एक ध्वज एक आवश्यकता है। लाखों लोग इसके लिए मर चुके हैं। यह कोई संदेह नहीं है कि यह एक प्रकार से पूज्यनीय है, जिसे नष्ट करना एक पाप होगा। इसके लिए, एक ध्वज एक आदर्श का प्रतिनिधित्व करता है, जैसे यूनियन जैक का उद्भव अंग्रेजो कि भावनाओं में उभरता है जिसकी ताकत को मापना मुश्किल है। स्टार्स एंड स्ट्राइप्स का मतलब अमेरिकियों के लिए एक दुनिया है। स्टार और क्रिसेंट इस्लाम में सर्वश्रेष्ठ बहादुरी को आगे बढ़ाएगा। “

“यह हमारे लिए आवश्यक होगा कि हम भारतीय मुसलमान, ईसाई यहूदी, पारसी और अन्य सभी लोग जिनके लिए भारत उनका घर है-जीने और मरने के लिए एक समान ध्वज को पहचानना।”

22 जुलाई, 1947 को संविधान सभा ने इसे मुक्त भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाया। स्वतंत्रता के आगमन के बाद, रंग और उनका महत्व समान रहा। केवल सम्राट अशोक के धर्म चरखे को ध्वज पर प्रतीक के रूप में चरखा के स्थान पर अपनाया गया था।

पिंगली वेंकय्या

गांधी ने पहली बार 1921 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को एक झंडा प्रस्तावित किया था। इस झंडे को पिंगली वेंकय्या ने डिजाइन किया था। केंद्र में एक पारंपरिक कताई पहिया था, जो गांधी के भारतीयों को अपने स्वयं के कपड़े बनाने के द्वारा आत्मनिर्भर बनाने के लक्ष्य का प्रतीक था।

ध्वज के रंग

भारत के राष्ट्रीय ध्वज में शीर्ष बैंड भगवा रंग का है, जो देश की ताकत और साहस को दर्शाता है। सफेद मध्य बैंड धर्म चक्र के साथ शांति और सच्चाई को इंगित करता है। आखिरी पट्टी हरे रंग की है जो भूमि की उर्वरता, वृद्धि और शुभता को दर्शाती है।

अशोक चक्र

इस धर्म चक्र को तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व मौर्य सम्राट अशोक द्वारा बनाई गई सारनाथ शेर राजधानी में “कानून का पहिया” दर्शाया गया है। चक्र यह दिखाने का इरादा रखता है कि गति में जीवन है और ठहराव में मृत्यु है। इसमें कुल २४ तीलिया है. जो कहा जाता २४ घंटे जिसे जीवन को गतिमान रहने का सन्देश देती है.

और अधिक जानकारी के लिए हमारे इस लिंक पर जाये.

राष्ट्र गान जन गन मन National Anthem of India JAN GAN MAN

जनगणमन-अधिनायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
पंजाब सिन्धु गुजरात मराठा द्राविड़ उत्कल बंग
विन्ध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्छलजलधितरंग
तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशिष मागे,
गाहे तव जयगाथा।
जनगणमंगलदायक जय हे भारतभाग्यविधाता!
जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे।।

राष्ट्रगान जन गण मन आजादी के बाद पहली बार २४ जनवरी १९५० में भारतीय संविधान में राष्ट्रगान के तौर पर स्वीकारा गया. बता दें कि राष्ट्रगान को पूरा गाने में 52 सेकेंड का समय लगता है

  • राष्ट्रगान को गाते समय कुछ नियमों का पालन करना चाहिए, वे इस प्रकार है –
  1. राष्ट्रगान को जब भी गाया या बजाया जाये, श्रोताओं का खड़ा होना अनिवार्य है.
  2. राष्ट्रगान को गाने या बजाने से पहले सुचना देना अनिवार्य है.
  3. परेड की सलामी, सेना के कार्यक्रम के द्वारा राष्ट्रगान गाया जाता है.
  4. झंडा फहराते समय राष्ट्रगान गाना अनिवार्य है.
  5. विद्यालय, सरकारी कार्यालयों में दिन की शुरुवात राष्ट्रगान के द्वारा की जा सकती है.
  6. राष्ट्रगान की महिमा, गौरव, आदर का ज़िम्मा हर एक नागरिक का होता है.

और अधिक जानकारी के लिए हमारे इस लिंक पर जाये.

राष्ट्र गीत वन्देमातरम National Song of India Vande Matram

वदेंमातरम को भी राष्ट्रगान बनाने की बात कही जा रही थी लेकिन उसे राष्ट्रगीत बनाया गया क्योंकि उसकी शुरुआती चार लाइन ही देश को समर्पित हैं बाद की लाइने बंगाली भाषा में हैं और मां दुर्गा की स्तुति की गई है. किसी भी ऐसे गीत को राष्ट्रगान बनाना उचित नहीं समझा गया जिसमें देश का न होकर किसी देवी-देवता का जिक्र हो. इसलिए वंदे मातरम को राष्ट्रगान ना बनाकर राष्ट्रगीत बनाया गया.

वन्दे मातरम् राष्ट्रगीत के तौर पर शुरुवात के दो पद को लिया गया है.

वन्दे मातरम्
सुजलां सुफलाम्
मलयजशीतलाम्
शस्यश्यामलाम्
मातरम्।

शुभ्रज्योत्स्नापुलकितयामिनीम्
फुल्लकुसुमितद्रुमदलशोभिनीम्
सुहासिनीं सुमधुर भाषिणीम्
सुखदां वरदां मातरम्॥ १॥

और अधिक जानकारी के लिए हमारे इस लिंक पर जाये.

राष्ट्रीय मुद्रा रुपया National Currency of India Indian Rupee

रुपया शब्द का उद्गम संस्कृत के शब्द रुप् या रुप्याह् में निहित है, जिसका अर्थ चाँदी होता है और रूप्यकम् का अर्थ चाँदी का सिक्का है रुपया शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम शेर शाह सूरी ने भारत मे अपने शासन १५४०-१५४५ के दौरान किया था। शेर शाह सूरी ने अपने शासन काल में जो रुपया चलाया वह एक चाँदी का सिक्का था भारतीय मुद्रा के लिए एक आधिकारिक प्रतीक-चिह्न दिनांक १५ जुलाई, २०१० को चुन लिया गया है जिसे आईआईटी, गुवाहाटी के प्रोफेसर डी. उदय कुमार ने डिज़ाइन किया है।

राष्ट्रीय प्रतिक अशोक चक्र National Emblem of India Ashoka Chakra

भारत का राष्ट्रीय चिन्ह सारनाथ स्थित अशोक स्तंभ में सिंह की अनुकृति है. गोलाई में बनी इस आकृति में चार सिंह के मुंह है, जो एक दुसरे को पीठ दिखाए हुए बने है. ये आकृति शक्ति, साहस और जीत का प्रतीक है. इसके साथ ही इसमें नीचे की ओर एक हाथी, एक घोड़ा, एक बैल और एक शेर की आकृति बनी हुई है, इसके बीच में अशोक चक्र भी बना हुआ है. इसके नीचे ‘सत्यमेव जयते’ लिखा हुआ है, 26 जनवरी 1950 को जब देश का संविधान लागु हुआ था, तब इसे देश का राजकीय प्रतीक के रूप में अपनाया गया था.

राष्ट्रीय प्रतिज्ञा भारत मेरा देश है. National Pledge of india Bharat Mera Desh Hai

इसे तेलगु में प्यदिमर्री वेंकट सुब्बा राव द्वारा 1962 में लिखा गया था. इसे 26 जनवरी 1965 से सभी स्कूलों में निर्धारित रूप से गाये जाने का प्रावधान बनाया गया.

National Pledge of India in English

India is my country. All Indians are my brothers and sisters.
I love my country. I am proud of its rich and varied heritage.
I shall always strive to be worthy of it.
I shall give my parents, teachers and all elders, respect, and treat everyone with courtesy.
To my country and my people, I pledge my devotion.
In their well being and prosperity alone, lies my happiness.

National Pledge of India in Hindi

भारत मेरा देश है | हम सब भारतवासी भाई बहन हैं |
मुझे अपना देश प्राणों से भी प्यारा है |
इसकी समृद्धि और विविध संस्कृति पर मुझे गर्व है |
हम इसके सुयोग्य अधिकारी बनने का सदा प्रयत्न करते रहेंगे |
मैं अपने माता-पिता, शिक्षकों एवं गुरुजनों का सदा आदर करुँगा और सबके साथ शिष्टता का व्यवहार करुँगा |
मैं अपने देश और देशवासियों के प्रति वफादार रहने की प्रतिज्ञा करता हूँ |
उनके कल्याण और समृद्धि में ही मेरा सुख निहित है.

Indian National Pledge in Telugu

భారతదేశము నా మాతృభూమి.
భారతీయులందరు నా సహోదరులు.
నేను నా దేశమును ప్రేమించుచున్నాను.
సుసంపన్నమైన, బహువిధమైన నాదేశ వారసత్వసంపద నాకు గర్వకారణము.
దీనికి అర్హుడనగుటకై సర్వదా నేను కృషి చేయుదును.
నా తల్లిదండ్రులను, ఉపాధ్యాయులను, పెద్దలందరిని గౌరవింతును.
ప్రతివారితోను మర్యాదగా నడచుకొందును.
నా దేశముపట్లను, నా ప్రజలపట్లను సేవానిరతి కలిగియుందునని ప్రతిజ్ఞ చేయుచున్నాను.
వారి శ్రేయోభివృద్ధులే నా ఆనందమునకు మూలము.

Indian National Pledge in Maithili

भारत हमर देश थिक।
हम सब भारतवासी भाई बहिन छी।
हमर देश अपन प्राणहुँ स प्रिय अछि।
हम भारतक आ विविध संस्कृति पर गर्व करैत छी।
हम भारतक सुयोग्य अधिकारी हैबाक सदा प्रयत्न करब।
हम अपन माता पिता शिक्षक और गुरु जनक आदर करब आ सबहक संग शिष्टताक व्यवहार करब।
अपना देश आ देशवासीक प्रति हम अपन निष्ठाक प्रतिज्ञा करैत छी।
हुनक कल्याण और सुखसमृद्धि टा में हमारा सुख निहित अछि।

Indian National Pledge in Kannada

ಭಾರತ ನನ್ನ ತಾಯಿನಾಡು.
ಎಲ್ಲಾ ಭಾರತೀಯರು ನನ್ನ ಸಹೋದರರು ಮತ್ತು ಸಹೋದರಿಯರು.
ನಾನು ನನ್ನ ದೇಶವನ್ನು ಪ್ರೀತಿಸುತ್ತೇನೆ ಮತ್ತು ನನ್ನ ದೇಶದ ಶ್ರೀಮಂತ ಮತ್ತು ವಿವಿಧ ಪರಂಪರೆಯ ಬಗ್ಗೆ ಹೆಮ್ಮೆಪಡುತ್ತೇನೆ.
ನಾನು ಯಾವಾಗಲೂ ಅದಕ್ಕೋಸ್ಕರ ಶ್ರಮಿಸುತ್ತೇನೆ.
ನನ್ನ ಪೋಷಕರಿಗೆ, ಶಿಕ್ಷಕರಿಗೆ ಮತ್ತು ಎಲ್ಲಾ ಹಿರಿಯರರಿಗೆ ಗೌರವಿಸುತ್ತೇನೆ ಮತ್ತು ಎಲ್ಲರೊಂದಿಗೆ ಸೌಜನ್ಯದಿಂದ ವರ್ತಿಸುತ್ತೇನೆ.
ನನ್ನ ದೇಶ ಮತ್ತು ಜನರಿಗೆ, ನನ್ನ ಬದ್ಧತೆಯ ವಾಗ್ದಾನ ಮಾಡುತ್ತೇನೆ.
ಅವರ ಯೋಗಕ್ಷೇಮದ ಮತ್ತು ಅಭ್ಯುದಯದಲ್ಲಿ ನನ್ನ ಸಂತೋಷ ನೆಲೆಸಿದೆ.

Indian National Pledge in Malayalam

ഭാരതം എന്റെ നാടാണ്.
എല്ലാ ഭാരതീയരും എന്റെ സഹോദരീസഹോദരന്മാരാണ്‌.
ഞാൻ എന്റെ നാടിനെ സ്നേഹിക്കുന്നു.
സമ്പന്നവും വൈവിദ്ധ്യപൂർണവുമായ അതിന്റെ പരമ്പരാഗതസമ്പത്തിൽ ഞാൻ അഭിമാനിക്കുന്നു.
ആ സമ്പത്തിന് അർഹനാകുവാൻ ഞാൻ എപ്പോഴും ശ്രമിക്കുന്നതാണ്.
ഞാൻ എന്റെ മാതാപിതാക്കളെയും ഗുരുജനങ്ങളെയും മുതിർന്നവരെയും ആദരിക്കുകയും –
എല്ലാവരോടും വിനയപൂർവം പെരുമാറുകയും ചെയ്യും.
ഞാൻ എന്റെ നാടിനോടും എന്റെ നാട്ടുകാരോടും സേവാനിരതനായിരുക്കുമെന്ന് പ്രതിജ്ഞ ചെയ്യുന്നു.
എന്റെ നാടിന്റെയും നാട്ടുകാരുടെയും ക്ഷേമത്തിലും അഭിവൃദ്ധിയിലുമാണ് എന്റെ ആനന്ദം.
ജയ് ഹിന്ദ്.

Indian National Pledge in Marathi

भारत माझा देश आहे. सारे भारतीय माझे बांधव आहेत.
माझ्या देशावर माझे प्रेम आहे.
माझ्या देशातल्या समृद्ध आणि विविधतेने नटलेल्या परंपरांचा मला अभिमान आहे.
त्या परंपरांचा पाईक होण्याची पात्रता माझ्या अंगी यावी म्हणून मी सदैव प्रयत्न करेन.
मी माझ्या पालकांचा, गुरुजनांचा आणि वडीलधा-या माणसांचा मान ठेवेन आणि प्रत्येकाशी सौजन्याने वागेन.
माझा देश आणि माझे देशबांधव यांच्याशी निष्ठा राखण्याची मी प्रतिज्ञा करीत आहे.
त्यांचे कल्याण आणि त्यांची समृद्धी ह्यांतच माझे सौख्य सामावले आहे.

Indian National Pledge in Gujarati

ભારત મારો દેશ છે.
બધા ભારતીયો મારા ભાઈ બહેન છે.
હું મારા દેશને ચાહું છું અને તેન સમૄધ્ધ અને વૈવિધ્યપુર્ણ વારસાનો મને ગર્વ છે.
હું સદાય તેને લાયક બનવા પ્રયત્ન કરીશ
હું મારા માતા-પિતા; શિક્ષકો અને વડીલો પ્રત્યે આદર રાખીશ અને દરેક જણ સાથે સભ્યતાથી વર્તીશ.
હું મારા દેશ અને દેશ બાંધવોને મારી નિષ્ઠા અર્પૂં છુ.
તેમના કલ્યાણ અને સમૄધ્ધીમાં જ મારું સુખ રહયું છે.

Indian National Pledge in Sanskrit

भारतो मम देशो अयं भारतीयाश्च बान्धवाः ।
परानुरक्तिरस्मिन् मे देशे अस्ति मम सर्वदा ॥१॥
समृद्धाः विविधाश्चास्य या देशस्य परम्पराः ।
सन्ति ताः प्रति मे नित्यम् अभिमानोन्नतम् शिरः ॥२॥
प्रयतिष्ये सदा चाहम् आसादयितुम् अर्हताम् ।
येन तासाम् भविष्यामि श्रद्धायुक्तः पदानुगः ॥३॥
संमानयेयं पितर वयोज्येष्ठान् गुरुंस्तथा ।
सौजन्येनैव वर्तेय तथा सर्वैरहं सदा ॥४॥
स्वकियेन हि देशेन स्वदेशीयैश्च बान्धवैः ।
एकान्तनिष्ठं आचारं प्रतिजाने हि सर्वदा ॥५॥
एतेषामेव कल्याणे समुत्कर्षे तथैव च |
नूनं विनिहितं सर्वं सौख्यं आत्यन्तिकं मम ||६||

राष्ट्रीय पशु जानवर शेर National Animal of India

यह भारत की समृधि, ताकत, फुर्ती एवं अपार शक्ति को दिखाता है. इसे राष्ट्रीय जानवर के तौर पर अप्रैल 1973 में घोषणा की गई थी. उस समय इसका उद्देश्य प्रोजेक्ट टाइगर से जुड़ा हुआ था, जिसके अंतर्गत शेरो को बचाने का सन्देश सबको दिया जाता है.

राष्ट्रीय पक्षी मोर National Bird of India

भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर है. मोर उज्ज्वल रंग की एकता को दर्शाता है, साथ ही भारतीय संस्कृति को दर्शाता है. इसे 1963 में राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया गया था. यह सुंदर मोर देश की विभिन्नता को भी दर्शाता है. यह बाकि देशों की तुलना में भारत देश में बहुत अधिक पाया जाता है.

लेकिन कुछ अन्य पक्षियों को भी सम्मान के लिए माना जाता था, जैसे कि ग्रेट इंडियन बस्टर्ड, सॉर्स क्रेन (सॉर्स), स्वान (हंसा), ब्राह्मणी पतंग और भारतीय ईगल। भारतीय ईगल या ब्राह्मणी पतंग, गरुड़, एक पौराणिक पक्षी और भगवान विष्णु के वराह का प्रतिनिधित्व करते हैं

राष्ट्रीय कैलेंडर शक National Calendar of Shaka Calendar

Saka Calendar 1957 में कैलेंडर समिति द्वारा पेश किया गया था। Saka कैलेंडर का उपयोग आधिकारिक तौर पर 1 चैत्र 1879 Saka युग, या 22 मार्च 1957 में शुरू किया गया था।

चैत्र
वैशाख
ज्येष्ठ (जेठ)
आषाढ़
श्रावण (सावन)
भाद्रपद (भादों)
अश्विन (क्वार)
कार्तिक
अग्रहायण (अगहन) 
पौष
माघ
फाल्गुन

राष्ट्रीय फल आम पर अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

राष्ट्रीय वृक्ष बरगद  पर अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

ये सभी India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह , मानक व विशेषताओ को दर्शाता है इनमे हमने उनसभी कि जानकारी देने कि कोशिश किये है जिनमे कुछ अतिरिक्त जानकरी है वैसे कुछ ऐसे भी मानक है जैसे आम, हाथी पर अतिरिक्त विश्लेष्ण नहीं किये है.

***************************************************************

आपने इस post 37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह के माध्यम से बहुत कुछ जानने को मिला होगा. और आपको हमारी दी गयी जानकारी पसंद भी आया होगा. हमारी पूरी कोशिश होगी कि आपको हम पूरी जानकारी दे सके.जिससे आप को जानकारियों को जानने समझने और उसका उपयोग करने में कोई दिक्कत न हो और आपका समय बच सके. साथ ही साथ आप को वेबसाइट सर्च के जरिये और अधिक खोज पड़ताल करने कि जरुरत न पड़े.

यदि आपको लगता है 37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह इसमे कुछ खामिया है और सुधार कि आवश्यकता है अथवा आपको अतिरिक्त इन जानकारियों को लेकर कोई समस्या हो या कुछ और पूछना होतो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है.

और यदि आपको 37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह जानकरी पसंद आती है और इससे कुछ जानने को मिला और आप चाहते है दुसरे भी इससे कुछ सीखे तो आप इसे social मीडिया जैसे कि facebook, twitter, whatsapps इत्यादि पर शेयर भी कर सकते है.

धन्यवाद!

2 thoughts on “37 India National Symbols भारत के राष्ट्रीय चिन्ह”

Leave a Comment